अगले 12 घंटे में और तेज हो सकता है चक्रवाती तूफान ‘तौकते’, 5 राज्यों में बचाव दल तैनात

0
451
अगले 12 घंटे में और तेज हो सकता है चक्रवाती तूफान ‘तौकते’, 5 राज्यों में बचाव दल तैनात

Cyclone Tauktae: अरब सागर में बन रहे चक्रवात ‘तौकते’ अगले 12 घंटों में विकराल रूप ले सकता है, मौसम विभाग ने मंगलवार सुबह तक इसके गुजराट तट पर टकराने की संभावना जताई है.

नई दिल्ली: 

Cyclone Tauktae: अरब सागर में बन रहे चक्रवात ‘तौकते’ अगले 12 घंटों में विकराल रूप ले सकता है, मौसम विभाग ने मंगलवार सुबह तक इसके गुजराट तट पर टकराने की संभावना जताई है. गुजरात के अलावा दीव के तटीय इलाके इस चक्रवात के दायरे में हैं. जहां भारत एक तरफ कोविड जैसे महामारी की दूसरी लहर के प्रकोप से घिरा हुआ है, वहीं इस चक्रवाती तूफान ने चुनौतियों को और बढ़ा दिया है. अगले 24 घंटों में इसके बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल जाने की संभावना है. इस चक्रवात को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तैयारियों का जायजा लेने के लिए शनिवार को एक महत्वपूर्ण बैठक करेंगे. इससे निपटने के लिए NDRF ने 53 टीमों को तैयार किया है. जिनकी तैनाती पांच राज्यों केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, गुजरात और महाराष्ट्र में की जा रही है.

केरल सरकार ने संभावित चक्रवाती तूफान के मद्देनजर अस्पतालों का भंडार बढ़ाने के लिए आसपास के भंडारों से राज्य में तत्काल कम से कम 300 मीट्रिक ट्रन ऑक्सीजन भेजने की अपील की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे पत्र में केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने 14-15 मई के दौरान चक्रवाती तूफान की चेतावनी दी है और राज्य के कई हिस्सों में भारी वर्षा एवं तूफान का अनुमान लगाया है. 

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ की चेतावनी के मद्देनजर बृहन्मुंबई महानगरपालिका के अधिकारियों ने कोविड-19 टीकाकरण अभियान को अगले दो दिन के लिए स्थगित करने का फैसला किया है. बृहन्मुंबई महानगर पालिका ने शुक्रवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी, जिसके मुताबिक मुंबई में 15 और 16 मई को टीकाकरण अभियान स्थगित रहेगा

लक्षद्वीप के निचले इलाकों में बाढ़ की संभावना है, जिसको देखते हुए मौसम विभाग ने विभिन्न हिस्सों में रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. मछुआरों को जहां मंगलवार तक अरब सागर में जाने से मना किया गया है तो वहीं यहां की पर्यटन गतिविधियों को प्रतिबंधिंत कर दिया गया है. नौसेना को समुद्र में संचालन के दौरान सावधानी बरतने की सलाह दी गई है. इस चक्रवात के कारण तमिलनाडु और राजस्थान के कुछ इलाकों में तेज बारिश की भी संभावना है. चक्रवात ‘तौकते’ को देखते हुए नौसेना के जहाज विमान, हेलीकॉप्टर, गोताखोरी और आपदा राहत दल तैयार हैं. 

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) और इन तटीय राज्यों द्वारा जारी किए कुछ परामर्शों के अनुसार दक्षिण अरब सागर और लक्षद्वीप इलाके में बृहस्पतिवार को दबाव का क्षेत्र बन गया है. IMD ने अपनी चेतावनी रिपोर्ट में कहा, ‘‘यह शनिवार सुबह तक इसी क्षेत्र में गहरे दबाव के क्षेत्र में बदल जाएगा और उसके बाद अगले 24 घंटों में चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा.” उसने बताया कि इसके उत्तर-उत्तरपश्चिम गुजरात और पाकिस्तानी तटों की ओर बढ़ने की संभावना है. आईएमडी ने बताया कि यह 18 मई की शाम तक गुजरात तट के नजदीक पहुंच सकता है. इस चक्रवात को ‘तौकते’ नाम म्यांमा ने दिया है. यह भारतीय तट पर इस साल पहला चक्रवाती तूफान होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here