कश्मीर से कन्याकुमारी तक 2023 से सीधे चलेगी ट्रेन, मंत्री ने इस प्रोजेक्ट को मिशन मोड में पूरे करने के दिये आदेश

0
169
कश्मीर से कन्याकुमारी तक 2023 से सीधे चलेगी ट्रेन, मंत्री ने इस प्रोजेक्ट को मिशन मोड में पूरे करने के दिये आदेश

USBRL Project: देश को कश्मीर से कन्याकुमारी तक जोड़ने वाली उधमपुर-श्रीनगर-बारामुला रेल लिंक परियोजना अप्रैल-2023 तक पूरी होगी. रेलमंत्री ने कहा कि वर्ष 2021-22 के लिए परियोजना का बजट 4,200 करोड़ रुपए है. साथ ही कहा कि परियोजना के लिए बजट की कोई बाधा नहीं होगी. लेकिन कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण नुकसान की भरपाई के लिए कुछ महीनों में अतिरिक्त प्रयास करने होंगे

नई दिल्ली. देश को कश्मीर (Kashmir) से कन्याकुमारी (Kanyakumari) तक जोड़ने वाले रेल प्रोजेक्ट (Rail Project) को अब मिशन मोड में पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं. केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने उधमपुर-बारामूला रेल लिंक परियोजना (USBRL Project) की प्रोग्रेस रिपोर्ट को लेकर समीक्षा की है.

रेलवे की 272 किलोमीटर लंबी इस परियोजना के कार्य को कोविड-19 (COVID-19) की दूसरी लहर के कारण काफी नुकसान हुआ है. अब इसकी भरपाई के लिए आने वाले कुछ महीनों में अतिरिक्त प्रयास करने के निर्देश रेलवे को दिए गए हैं. इस प्रोजेक्ट को पूरा करने की डेडलाइन अप्रैल 2023 है.

इस बीच देखा जाए तो इस प्रोजेक्ट को पूरा करने के दौरान हर उस मौसम का विशेष ध्यान रखकर किया जा रहा है जोकि इसकी कनेक्टिविटी को बाधा नहीं पहुंचा सके. यानी कश्मीर क्षेत्र को देश के बाकी हिस्सों से हर मौसम में कनेक्टिविटी बिना किसी बाधा के प्रदान की जा सकेगी. कश्मीर में आमतौर पर भारी बर्फबारी का मौसम रहता है. इस सभी को ध्यान में रखते हुए प्रोजेक्ट को पूरा किया जा रहा है.

भारत सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट माने जाने वाले इस रेल प्रोजेक्ट को पूरा करने में बजट की भी कोई कमी नहीं आने दी जा रही है. इसके लिए अब 2021-22 में 4,200 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है.
केंद्रीय रेल, वाणिज्‍य एवं उद्योग, उपभोक्‍ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल के वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के माध्‍यम से की गई प्रगति की समीक्षा के दौरान रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और सीईओ के अलावा अन्य रेलवे के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे.

रेलमंत्री ने कहा कि वर्तमान कोविड स्थिति के बावजूद अप्रैल और मई 2021 में यूएसबीआरएल परियोजना (USBRL Project) के अंतर्गत सराहनीय कार्य किया गया है.

रेलमंत्री को अवगत कराया गया कि वर्ष 2021-22 के लिए यूएसबीआरएल परियोजना का बजट 4,200 करोड़ रुपए है. मंत्री ने निर्देश दिया कि इस परियोजना के लिए बजट की कोई बाधा नहीं होगी. परियोजना के पूरा होने की तिथि अप्रैल-2023 है.

बताते चलें कि कश्‍मीर घाटी (Kashmir Valley) को देश के शेष भागों से जोड़ने वाली 272 किलोमीटर लंबी उधमपुर-बारामूला रेल लिंक परियोजना (USBRL Project) को वर्ष 2002 में राष्‍ट्रीय परियोजना घोषित किया गया था.

इस परियोजना के 272 किलोमीटर में से 161 किलोमीटर पर कार्य पूरा कर उसे चालू कर दिया गया है. इस प्रोजेक्ट को तीन चरणों में बांटा गया है. इसमें उधमपुर-कटरा – 25 किलोमीटर –  जुलाई 2014 में शुरू, काजीगुंड – बारामूला -118 किलोमीटर – अक्‍टूबर, 2009 में शुरू और बनिहाल-क़ाज़ीगुंड – 18 किलोमीटर –  जून 2013 में शुरू शामिल है. लेकिन कटरा–बनिहाल- 111 किलोमीटर का कार्य प्रगति पर है.

बनिहाल-बारामूला सेक्‍शन का विद्युतीकरण का काम मार्च-2022 तक होगा पूरा

बनिहाल से बारामूला तक 136 किलोमीटर लंबी रेल लाइन पहले ही चालू हो चुकी है और इसके विद्युतीकरण का कार्य भी स्वीकृत हो चुका है. सभी निविदाएं प्रदान कर दी गई हैं और एस एंड टी योजनाओं को भी मंजूरी दे दी गई है और कार्य प्रगति पर है. बनिहाल-बारामूला सेक्‍शन पर रेलवे विद्युतीकरण कार्यों को पूरा करने का लक्ष्य मार्च-2022 है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here