पाकिस्‍तान ने लॉन्‍च की अपनी कोरोना वैक्‍सीन PakVac, असर से लेकर ट्रायल तक की जानकारी छिपाई

0
205
पाकिस्‍तान ने लॉन्‍च की अपनी कोरोना वैक्‍सीन PakVac, असर से लेकर ट्रायल तक की जानकारी छिपाई

इस्‍लामाबाद. दुनिया भर में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) से बचाव के लिए बड़े स्‍तर पर टीकाकरण (Corona Vaccination) का अभियान चल रहा है. हर उम्र के लोगों को कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) लगाई जा रही है. इस बीच पाकिस्‍तान (Pakistan) ने भी अपनी खुद की कोरोना वैक्‍सीन को लॉन्‍च किया है. इसका नाम PakVac कोरोना वैक्‍सीन रखा गया है. पाकिस्‍तान ने इस कोरोना वैक्‍सीन को लॉन्‍च तो कर दिया है, लेकिन उसने यह नहीं बताया है कि वैक्‍सीन कितनी प्रभावी है? कितने लोगों पर इसका ट्रायल हुआ? ट्रायल के नतीजे क्‍या रहे?

पाकिस्‍तान के नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर प्रमुख असद उमर ने इस वैक्‍सीन को लॉन्‍च किया है. उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान जल्‍द ही कोविड 19 की महत्‍वपूर्ण दवा को भी बनाने की शुरुआत करने में सक्षम होगा. उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान में बनाई गई यह वैक्‍सीन सख्‍त ट्रायल, गुणवत्‍ता और जांच से गुजरी है.

उमर ने यह भी कहा कि इस महामारी के दौर में चीन पाकिस्‍तान के दोस्‍त के रूप में सामने आया है. पहले से दोस्‍त रहा चीन कोरोना काल में भी हमारे साथ है. इसके साथ ही उमर ने वैक्‍सीन बनाने के लिए राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य संस्‍थान की भी प्रशंसा की है. उन्‍होंने कहा कि इससे वैक्‍सीन की आपूर्ति में तेजी आएगी.

वहीं पाकिस्तान सरकार जुलाई के अंतिम सप्ताह में होने वाले ईद उल-अज़हा (बकरीद) त्योहार के आसपास लॉकडाउन की संभावना से बचने के लिए आने वाले सप्ताहों में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण के अभियान में तेजी लाएगी. देश के योजना मंत्री असद उमर ने कहा कि बकरीद के दौरान कड़े प्रतिबंधों से बचने के लिए सरकार ने जुलाई के अंतिम सप्ताह तक अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करने का फैसला लिया है.

उन्होंने कहा, ‘हमारे आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक टीके की 70 लाख से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं, जिनमें से करीब 20 लाख लोगों को दोनों खुराक दी गई हैं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here