पीएम मोदी ने चार मुख्यमंत्रियों को फोन करके जाना राज्य में कोरोना की स्थिति का हाल

0
167
पीएम मोदी ने चार मुख्यमंत्रियों को फोन करके जाना राज्य में कोरोना की स्थिति का हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से फोन पर बात की. सूत्रों के अनुसार पीएम ने तीनों मुख्यमंत्रियों से उनके राज्यों में कोरोनोवायरस की स्थिति पर चर्चा की.

नई दिल्ली: 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने आज महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray), मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan), हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन से फोन पर बात की. सूत्रों के अनुसार पीएम ने तीनों मुख्यमंत्रियों से उनके राज्यों में कोरोनोवायरस की स्थिति पर चर्चा की. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा था कि महाराष्ट्र पिछले साल से महामारी की चपेट में है. भारत में सबसे ज्यादा महामारी से प्रभावित राज्यों की लिस्ट में महाराष्ट्र सबसे ऊपर है. संक्रमण की नई लहर ने भी महाराष्ट्र को झकझोर के रख दिया है. राज्य में पिछले 24 घंटों में 54,022 नए मामले सामने आए हैं. बीते 24 घंटों में महाराष्ट्र में 898 कोरोना संक्रमित रोगियों की मौत भी हुई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के बीच बातचीत उस दिन हुई जब राज्य सरकार ने कोविन ऐप को लेकर केंद्र को खत लिखा. महाराष्ट्र की ठाकरे सरकार ने राज्य में कोविड टीकाकरण के लिए एक अलग ऐप विकसित करने की अनुमति मांगी है. कोविन ऐप द्वारा रजिस्ट्रेशन में आ रही लगातार दिक्कतों को देखते हुए राज्य सरकार ने केंद्र को खत लिखा था.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि महाराष्ट्र उन 10 राज्यों में शामिल है, जो एक दिन में रिपोर्ट किए गए नए COVID-19 मामलों में 72 प्रतिशत के करीब हैं

पीएम मोदी के साथ बातचीत के बाद ट्वीट में, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री को ब्रीफ किया कि राज्य सरकार कोविड रोगियों को ऑक्सीजन प्रदान करने के लिए क्या कदम उठा रही है. अस्पताल के बेड की स्थिति और टीकाकरण अभियान के बारे में भी बातचीत हुई

तीन दिनों में, पीएम मोदी ने 10 मुख्यमंत्रियों और दो उपराज्यपालों से बात कर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों का जायजा लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here