पेट्रोल 1.13 रु तो डीजल 1.33 रु हुआ महंगा, कांग्रेस नेता बोले- महामारी में लूट रही है ‘भारतीय जनलूट पार्टी’

0
233

देश में एक तरफ कोरोना संक्रमण की वजह से लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। देश में चल रहे इस माहौल में सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ाए जाने से आम जनता की मुश्किलें और बढ़ गई है।

बीते हफ्ते से पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही है। आज मोदी सरकार ने एक बार फिर पेट्रोल के दाम में 26 पैसे और डीजल के दाम में 33 पैसे की बढ़ोतरी कर दी है।

बीते हफ्ते से शुरू हुआ पेट्रोल और डीजल की कीमतों के बढ़ने का सिलसिला शनिवार और रविवार को थम गया था। लेकिन सोमवार यानी कि हफ्ते की शुरुआत में ही सरकार ने एक बार फिर इन्हे बढ़ा दिया है।

इस मामले में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि ‘भयंकर जनलूट पार्टी’ यानी BJP ने सात दिन में पेट्रोल के दाम 1.13 रुपये और डीज़ल में 1.33 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दिये हैं।

#COVID19 संकट में ये वसूली नाजायज़ है। जनता की कितना और जेब काटेगी मोदी सरकार? क्या यही “आपदा में अवसर” है?

गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेजी आने का हवाला देकर भारत सरकार पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी कर रही है।

बताया जाता है कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की चपेट में आने की वजह से भारत में तेल की खपत पहले के मुकाबले कम हो चुकी है। लेकिन इसकी कीमतों में फिर भी इजाफा किया जा रहा है। बता दें, भारत कच्चे तेल का दुनिया का सबसे प्रमुख ग्राहक है।

आपको बता दें कि देश में विधानसभा चुनाव खत्म होते ही पेट्रोल और डीजल के दामों को बढ़ाना शुरू किया गया है।

इससे पहले जब तक देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव चल रहे थे। तब तक मोदी सरकार ने जनता को लुभाने के लिए ऐसा कोई कदम नहीं उठाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here