बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हिंसा में अब तक 12 की मौत, ममता बनर्जी की शांति बनाए रखने की अपील

0
174
बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हिंसा में अब तक 12 की मौत, ममता बनर्जी की शांति बनाए रखने की अपील

कोलकाता: 

विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद पश्चिम बंगाल के अलग हिस्सों में हिंसा (Bengal Post Poll Violence) की खबरें आ रही हैं. चुनाव नतीजों की घोषणा के बाद शुरू हुई हिंसा में कम से कम 12 लोगों के मारे जाने की खबर है. यह आंकड़ा एक महीने तक चले चुनावों के दौरान मारे गए लोगों की संख्या से अधिक हो सकता है. हिंसा को लेकर बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस में जुबानी जंग जारी है. इस बीच, गृह मंत्रालय ने बंगाल से हिंसा को लेकर रिपोर्ट तलब की है. उधर, ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने शांति बनाे रखनी की अपील की.

बंगाल चुनाव में जीत दर्ज वाली तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने लोगों से शांति बनाए रखने का आह्वान किया है. हालांकि, उन्होंने हिंसा के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मंगलवार को कोलकाता आ रहे हैं. बीजेपी हिंसा के खिलाफ बुधवार को देशभर में प्रदर्शन करेगी. इसी दिन ममता बनर्जी तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी. 

गृह मंत्रालय ने राज्य से रिपोर्ट मांगी है. बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सोमवार शाम को बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष से मुलाकात की और बाद में ममता बनर्जी से मुलाकात की. धनखड़ ने ममता से हिंसा पर बात की और राज्य के अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है.

भारतीय जनता पार्टी ने दावा किया है कि कम से कम पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है और पूरे बंगाल में पार्टी के कई समर्थकों के घरों तथा पार्टी दफ्तर पर हमला किया गया और आगजनी की गई.

उधर, तृणमूल कांग्रेस ने पांच समर्थकों की हत्या होने का दावा किया है, जिसमें से तीन पूर्वी बर्दवान और एक हुबली की घटना है. वहीं, संयुक्त मोर्चा में कांग्रेस और लेफ्ट की सहयोगी इंडियन सेक्युलर फ्रंट की दक्षिणी 24 परगना में मारे जाने की खबर है. 

ममता बनर्जी ने कहा, “बंगाल एक शांति प्रिय स्थान है. चुनाव के दौरान, गर्मा गर्मी रही. भाजपा ने बहुत यातनाएं दीं. लेकिन, मैं सभी लोगों से शांत रहने की अपील करती हूं. हिंसा में लिप्त मत होइए. अगर कहीं कोई विवाद होता है तो पुलिस को सूचना दीजिए. पुलिस कोे कानून-व्यवस्था बनाए रखना चाहिए.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here