बंगाल में बाबा साहब अंबेडकर के संविधान के खिलाफ सरकार चला रही TMC: जी किशन रेड्डी

0
202
बंगाल में बाबा साहब अंबेडकर के संविधान के खिलाफ सरकार चला रही TMC: जी किशन रेड्डी

Post Poll Violence in West Bengal: जी किशन रेड्डी ने कहा लोगों के मौलिक अधिकारों की रक्षा करने के लिए केंद्र सरकार आगामी दिनों में इस मुद्दे पर चर्चा करेगी.

नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों के बाद हुई हिंसा (West Bengal Post Poll Violence) को लेकर गृह मंत्रालय के पैनल की रिपोर्ट पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी (MoS G Kishan Reddy) ने कहा कि बंगाल में अभी भी हिंसा हो रही है. रेड्डी ने कहा कि बुद्धिजीवियों और शिक्षाविदों के समूह की एक टीम ने बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद हुई हिंसक घटनाओं पर अपनी रिपोर्ट केंद्र को सौंप दी है. हिंसा अभी भी जारी है. गृह मंत्रालय की अगुआई वाली समिति ने भी इसी मुद्दे पर रिपोर्ट सौंप दी है.

जी किशन रेड्डी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस बंगाल में डॉ बाबा साहब अंबेडकर के संविधान के खिलाफ सरकार चला रही है और राज्य की पुलिस टीएमसी के कार्यकर्ताओं की तरह काम कर रही है. रेड्डी ने कहा लोगों के मौलिक अधिकारों की रक्षा करने के लिए केंद्र सरकार आगामी दिनों में इस मुद्दे पर चर्चा करेगी.

टीम को सौंपा गया था रिपोर्ट बनाने का कामबता दें कि पश्चिम बंगाल में 2 मई को सामने आए चुनाव के नतीजों के बाद कई जगहों पर हिंसा भड़क गई थी. गृह मंत्रालय की इस चार सदस्यीय टीम को इसी हिंसा के कारण जानने का काम सौंपा गया था. केंद्र ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ से बंगाल की कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर रिपोर्ट मांगी थी.

भारतीय जनता पार्टी का दावा है कि कई घटनाओं में उसके छह कार्यकर्ताओं की जान गई है. वहीं टीएमसी ने भी अपने 16 कार्यकर्ताओं के मारे जाने के दावा किया है. भाजपा ने आरोप लगाया था कि टीएमसी समर्थक गुंडों ने उसके कई कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी और महिला कार्यकर्ताओं पर हमला किया, घरों में तोड़-फोड़ की और दुकानों को लूटा.

गृह मंत्रालय की ओर ने बनाए गए इस पैनल ने शनिवार को ही इस रिपोर्ट को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी को सौंपा है.

बता दें इस हिंसा के बाद कई लोग पलायन करके असम भी चले गए थे जहां पर उनसे राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मुलाकात कर उन्हें सुरक्षा का आश्वासन दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here