बड़ी खबर: पूर्व सांसद मौलाना सैयद महमूद मदनी बने जमीअत उलमा ए हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष।

0
332
बड़ी खबर: पूर्व सांसद मौलाना सैयद महमूद मदनी बने जमीअत उलमा ए हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष।

नई दिल्ली: देश के मुसलमानों के बड़े संगठन जमीअत उलमा ए हिंद के अध्यक्ष मौलाना कारी सैयद उस्मान मंसूरपुरी के निधन के बाद आज बृहस्पतिवार को दिल्ली में स्थित जमीअत उलमा हिंद के मुख्यालय में हुई जमीअत उलमा हिंद की मजलिस ए आमला की मीटिंग में पूर्व सांसद और जमीयत उलेमा हिंद के महासचिव मौलाना सैयद महमूद मदनी को सर्वसम्मति से जमीअत उलमा ए हिंद का अगली मीटिंग तक कार्यवाहक राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है।

बता दें कि 21 मई 2021 करीब 15 दिन की बीमारी के बाद जमीअत उलमा हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना कारी सैयद उस्मान मंसूरपुरी का गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया था।

उनके इंतकाल के बाद से लगातार जमीअत उलमा हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष की कुर्सी पर नए अध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म था। आज दिल्ली में जमीअत उलमा हिंद मुख्यालय में मजलिस ए आमला की मीटिंग में सर्वसम्मति से मौलाना महमूद मदनी को कार्यवाहक राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है। मीटिंग में कई सदस्य ऑनलाइन शामिल रहे। वही जमीअत उलमा ए हिंद के सचिव मौलाना हकीमुद्दीन क़ासमी को जमीअत उलमा हिंद का महासचिव चुना गया है।

कार्यकारिणी की इस बैठक में जमीअत उलमा ए हिंद के दोनों धड़ों को एक करने के लिए भी चर्चा की गई, साथ ही मौलाना कारी उस्मान मंसूरपुरी की सेवाओं को याद करते हुए उनकी खिदमत की प्रशंसा की गई और उनकी मगफिरत के लिए दुआ की गई।

बैठक में इजराइल द्वारा फलस्तीन और अल अक्सा मस्जिद में बच्चों, महिलाओं और निर्दोष लोगों की गई कारवाई और बमबारी की निंदा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here