बिहार: LJP सांसद पशुपति पारस और प्रिंस राज पर मुजफ्फरपुर CJM कोर्ट में परिवाद दायर

0
192
बिहार: LJP सांसद पशुपति पारस और प्रिंस राज पर मुजफ्फरपुर CJM कोर्ट में परिवाद दायर

बिहार: रामविलास पासवान की पार्टी की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में चल रही चाचा और भतीजे की लड़ाई और तेज हो गई है. LJP सांसद पशुपति पारस और प्रिंस राज के खिलाफ मुजफ्फरपुर के सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर किया गया है. सामाजिक कार्यकर्ता कुंदन कुमार ने ये परिवाद दायर किया है. जानकारी के मुताबिक, धारा 406, 420 और 34 आईपीसी के तहत केस दायर हुआ है. दोनों पर लोकजनशक्ति पार्टी के साथ धोखाधड़ी और संसदीय मर्यादा तोड़ने का आरोप लगा है. इस केस पर 21 जून को अगली सुनवाई होगी. मालूम हो कि चिराग पासवान के चचेरे भाई प्रिंस पासवान के खिलाफ दिल्ली पुलिस में एक संगीन मामले में शिकायत दर्ज कराई गई है. प्रिंस के खिलाफ नई दिल्ली के कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन में एक लड़की ने शिकायत दर्ज करवाई है. लड़की का आरोप है कि प्रिंस पासवान ने पानी में नशीला पदार्थ मिलाने के बाद उनके साथ रेप किया.

लड़की का आरोप है कि पानी पीते ही वह बेहोश हो गईं और उनके साथ बेहोशी की हालत में रेप किया गया. 15 जून को पीड़िता ने तीन पन्नों में विस्तार से आपबीती बताते हुए दिल्ली पुलिस के समक्ष अपनी शिकायत दर्ज करवाई है. दिल्ली पुलिस के सूत्रों का कहना है कि अभी शिकायत मिली है. मामले की तफ़्तीश करवाई जा रही है. फिलहाल उस शिकायत के आधार पर FIR दर्ज नहीं हुई है, लेकिन आरोप की तफ़्तीश करने के बाद पुलिस इस मामले में कार्रवाई कर सकती है.

पोस्टर से चिराग गायब

लोक जनशक्ति पार्टी में जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. दो दिन पहले पार्टी में तख्तापलट करने के बाद नए सुप्रीमो का दावा करने वाले चिराग पासवान के चाचा पशुपति कुमार पारस बुधवार को पहली बार पटना आ रहे हैं. इस बीच पटना में लोक जनशक्ति पार्टी के पोस्टर और बैनर से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके चिराग पासवान की फोटो को गायब कर दिया गया है. पटना में पशुपति पारस के स्वागत में जितने भी पोस्टर लगाए गए हैं उनमें कहीं भी चिराग पासवान नहीं दिख रहे हैं और ना ही उनका नाम अंकित है, ऐसे में बुधवार को पटना में फिर से लोजपा के दोनों घटकों के बीच टकराव की संभावना से भी नकारा नहीं जा रहा है

प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं ने साफ कहा था कि चिराग पासवान ही हमारे नेता हैं. लोजपा इनकी पार्टी है और हमारी ही रहेगी. हम किसी पशुपति पारस को नहीं जानते हैं और हमलोग किसी को भी यहां नहीं आने देगे. चिराग के समर्थन में उतरे कार्यकर्ताओ में भीम आर्मी के अमर आजाद ने कहा कि हम चिराग पासवान के साथ हैं. उनके सिवा किसी को नहीं जानते हैं. हम उनके लिए कुछ भी करने को तैयार हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here