भाजपा को कांग्रेस से 5 गुना ज्यादा मिला फंड! 2019-20 में 750 करोड़ डोनेशन, कांग्रेस को मिले 139 करोड़

0
165

देश में इस वक्त भारतीय जनता पार्टी को ही सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी के तौर पर देखा जाता है। हालांकि कांग्रेस का दबदबा भी अभी कुछ जगहों पर कायम है। लेकिन पार्टी फंड के मामले में भाजपा ने कांग्रेस को पीछे छोड़ दिया है।

खबर के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी लगातार 7 सालों से पार्टी फंड मामले में कांग्रेस से आगे चल रही है।

इस मामले में चुनाव आयोग द्वारा एक रिपोर्ट पेश की गई है। जिसमें यह बताया गया है कि साल 2019 बीच में भारतीय जनता पार्टी को व्यक्तिगत और कॉर्पोरेट स्तर पर कुल मिलाकर 750 करोड रुपए का पार्टी फंड मिला है। जबकि कांग्रेस को सिर्फ 139 करोड रुपए का फंड मिल पाया है।

कांग्रेस के मुकाबले भाजपा को 5 गुना ज्यादा पार्टी फंड मिला है। इस कड़ी में एनसीपी को सिर्फ 59 करोड और टीएमसी को 8 करोड रुपए का पार्टी फंड मिला है।

इसके साथ ही सीपीएम को 19.6 करो और सीपीआई को 1.9 करोड़ का चंदा मिला है। और हमेशा की तरह इस बार भी बहुजन समाज पार्टी को कोई भी कॉर्पोरेट चंदा नहीं मिला है।

भारतीय जनता पार्टी को सबसे ज्यादा फंड देने जो दानदाता हैं। उनके नाम हैं जनकल्याण इलेक्ट्रोल ट्रस्ट, प्रूडेंट इलेक्ट्रोल ट्रस्ट, जुपिटर कैपिटल, आईटीसी, लोढा डेवलपर्स, गुलमर्ग रियलटर्स, बी जी शिर्के कंस्ट्रक्शन टेक्नोलॉजी।

इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी को फंड देने वाले दानदाताओं में बड़ी तादाद में शैक्षणिक संस्थान भी शामिल है।

जिनमें मेवाड़ यूनिवर्सिटी, कृष्णा इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग, जीडी गोयनका इंटरनेशनल स्कूल का नाम शुमार है। बताया जाता है कि इस तरह के ही कम से कम 14 शैक्षणिक संस्थान हैं। जिन्होंने भाजपा को पार्टी फंड दिया है।

शैक्षणिक संस्थानों के साथ-साथ पार्टी को दान देने वाले बड़ी तादाद में भारतीय जनता पार्टी के सदस्य और नेता भी हैं।

जिनमें हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू, राज्यसभा सांसद राजीव चंद्रशेखर और भाजपा नेता किरण खेर का नाम शुमार है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here