रेलवे मंत्रालय अब तक 200 Oxygen Express से 13 राज्‍यों को कर चुका है ऑक्‍सीजन सप्‍लाई

0
174
रेलवे मंत्रालय अब  तक 200 Oxygen Express से 13 राज्‍यों को कर चुका है ऑक्‍सीजन सप्‍लाई

रेलवे मंत्रालय अब तक 13 राज्‍यों में 200 ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस चलाकर ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई  कर चुका है. राज्‍यों की मांग के अनुसार संख्‍या और बढ़ाई जाएगी.

नई दिल्‍ली. कोरोना (Corona) काल में ऑक्‍सीजन (Oxygen) की किल्‍लत झेल रहे राज्‍यों (states) के लिए रेलवे मंत्रालय (Railway Ministry) अब तक 200 ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस चला चुका है, जिससे 12650 मिट्रिक टन ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई कर मरीजों की जान बचा चुका है. मौजूदा समय 10 ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस 45 टैंकरों में 784 मिट्रिक टन ऑक्‍सीजन लेकर विभिन्‍न राज्‍यों के लिए रवाना हो चुके हैं. रेलवे मंत्रालय के अनुसार राज्‍यों की मांग को देखते हुए और भी राज्‍यों में सप्‍लाई बढ़ाई जाएगी.

रेलवे मंत्रालय के अनुसार कोरोना मरीजों की बढ़ती सख्‍ंया और राज्‍यों में ऑक्‍सीजन की किल्‍लत को देखते हुए ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस चलाने का संचालन शुरू किया गया था. अब तक 13 राज्‍यों के लिए 200 ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस चलाई जा चुकी हैं. जिससे 775 टैंकरों से 12650 मिट्रिक टन ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई की जा चुकी है. जिन 13 राज्‍यों  में ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई  की जा रही है, उसमें उत्‍तराखंड, कर्नाटक,महाराष्‍ट्र, मध्‍य प्रदेश, आन्‍ध्र प्रदेश,राजस्‍थान,तमिलनाडु, हरियाणा, तेलंगाना, पंजाब, केरल, दिल्‍ली और उत्‍तर प्रदेश शामिल हैं. रेलवे मंत्रालय के अनुसार राज्‍यों को केवल आक्‍सीजन टैंकर की व्‍यवस्‍था करनी है, इसके अलावा सारी व्‍यवस्‍था रेलवे मंत्रालय कर रहा है.

अभी तक महाराष्ट्र को 521 मिट्रिक टन, उत्‍तर प्रदेश को 3189 मिट्रिक टन,  मध्‍य प्रदेश को 521 मिट्रिक टन, हरियाणा को 1549 मिट्रिक टन, तेलंगाना को 772, राजस्‍थान को 98 मिट्रिक टन, कर्नाटक को 641 मिट्रिक टन, उत्‍तराखंड को 584  मिट्रिक टन, तमिलनाडु को 584 मिट्रिक टन,  आन्‍ध्र प्रदेश को 292 मिट्रिक टन, पंजाब को 111 मिट्रिक टन, केरल को 118 मिट्रिक टन और दिल्‍ली को 3915 मिट्रिक टन से अधिक ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई  की जा चुकी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here