लॉकडाउन में सड़कों पर पुलिस तो लोगों ने नदी को बना लिया रास्ता, बिहार से नाव पर जाने लगे यूपी

0
199
लॉकडाउन में सड़कों पर पुलिस तो लोगों ने नदी को बना लिया रास्ता, बिहार से नाव पर जाने लगे यूपी

बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले में लॉकडाउन के दौरान यूपी के शहरों में जाने के लिए लोग ले रहे नाव का सहारा. गंडक नदी में सैकड़ों की संख्या में लोग अपने वाहनों के साथ नदी पार कर कोरोना नियमों का उड़ा रहे मखौल

बगहा (पश्चिमी चंपारण). बिहार और उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए दोनों राज्यों की सरकारों ने लॉकडाउन लगा रखा है. इस दौरान लोगों को बेवजह घर से न निकलने की ताकीद की गई है. सिर्फ जरूरी काम के लिए ही बाहर निकलने की छूट है. लोग कोरोना के नियम न तोड़ें, इसके लिए सड़कों पर पुलिस की तैनाती है. निजी वाहनों पर भी पाबंदी लगी है, इसलिए आम लोगों के साथ-साथ सड़कों पर गाड़ियों की आवाजाही भी कम हो गई है. लेकिन यूपी से सटे पश्चिमी चंपारण के कई इलाकों में लॉकडाउन के दौरान लोगों ने आवाजाही के लिए नया रास्ता ढूंढ लिया है. सड़कों पर लॉकडाउन को देख बगहा और आसपास के इलाकों के लोग आजकल गंडक नदी के रास्ते यूपी के शहरों को ओर जा रहे हैं.

लॉकडाउन के दौरान गंडक नदी के जरिये लोगों की आवाजाही की इन तस्वीरों को देखकर आप हैरान रह जाएंगे. एक ही नाव पर इंसान, मवेशी और वाहन लदे होते हैं. वाहन भी कैसे-कैसे, बाइक से लेकर चारपहिया गाड़ी तक. लोग जान हथेली पर लेकर गंडक नदी के रास्ते यूपी के इलाकों तक पहुंच जाते हैं. इस दौरान न तो कोरोना गाइडलाइन का पालन किया जाता है और न ही पुलिस या प्रशासन की रोक-टोक होती है. लोग बगैर मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कर नदी के रास्ते यूपी से बिहार की ओर आना-जाना कर लेते हैं

Bagha News बगहा, Gandak River गंडक नदी, boat नाव, West Champaran latest news, Bihar Corona News

बिहार में कोरोना लॉकडाउन के दौरान बगहा से आई इन तस्वीरों को देखकर आपको प्रशासन के दावों की हकीकत का पता चल जाएगा. ये तस्वीरें न सिर्फ प्रशासन की सुस्ती दिखाती हैं, बल्कि कोरोना के प्रति आम लोगों की लापरवाही भी. बगहा में स्थित गंडक नदी पर बच्चा बाबू घाट पर नाव के सहारे लोग दियारा और यूपी के कई इलाकों तक पहुंचते हैं. सैकड़ों की संख्या में ये लोग बिना रोक-टोक आवाजाही करते हैं.
इन नावों पर इंसानों के साथ-साथ मवेशियों और वाहन भी लादे जाते हैं. इससे गंडक नदी में नाव हादसे की आशंका रहती है, लेकिन लोगों को इसकी परवाह नहीं है. प्रशासन की नजर इस पर अभी तक नहीं पड़ी है, जिसके कारण लोग बेखौफ होकर लॉकडाउन में इस वैकल्पिक रास्ते का लाभ उठा रहे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here