संजय राउत ने राहुल गांधी को बताया विश्वसनीय नेता, बोले- पहले राहुल बोलते हैं बाद में सरकार मानती है

0
167

शिवसेना को अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी भाने लगे हैं. महाराष्ट्र में कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार चला रही शिवसेना ने अब राहुल गांधी की तारीफों के कसीदे पढ़ने शुरु कर दिए है।

सांसद संजय राउत ने राहुल गांधी को वजनदार बातों वाला नेता बताते हुए कहा कि उनकी कही गई बातों को ही केंद्र सरकार ने लागू किया है।

संजय राउत ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी हर महत्वपूर्ण मसले पर अपनी राय व्यक्त करते हैं। उनके विचारों का अपना महत्व होता है क्योंकि कोरोना काल में उनकी अधिकतर मांगों को केंद्र सरकार ने माना है और उसे लागू किया है।

मीडियाकर्मियों ने संजय राउत ने किसी मसले पर सवाल पूछते हुए कहा कि क्या आपको लगता है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की बातें तथ्यात्मक हैं?

इस पर जवाब देते हुए संजय राउत ने कहा कि राहुल गांधी की बातों में वजन होता है। उन्होंने चाहे टीकाकरण को लेकर कुछ बात की हो या कोरोना वायरस की… उनकी सभी बातें सही निकली हैं।

मालूम हो कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना से निपटने में मोदी सरकार को लगातार विफल बताते रहे हैं।

राहुल गांधी ने वैक्सीनेशन को भी लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला था. राहुल गांधी के विचारों पर जहां भाजपा आईटी सेल के ट्रोल लगातार उनकी आलोचना में जुटे हुए थे

तो वही केंद्र सरकार भी राहुल गांधी की सलाहों को मानने को तैयार नहीं थी लेकिन हालात ऐसे बन गए कि राहुल गांधी की अधिकतर सलाहों को सरकार को मानना पड़ गया।

वहीं शिवसेना के मुखपत्र सामना में भी कहा गया है कि राहुल गांधी कांग्रेस के सेनापति हैं। राष्ट्रीय स्तर पर वो अकेले ऐसे नेता हैं जो भाजपा के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं।

सामना के संपादकीय में कहा गया है कि कोविड 19 के बीच राहुल गांधी ने केंद्र सरकार को कई मुद्दों पर सलाह दी। पहले तो सरकार ने उनकी आलोचना की लेकिन बाद में उन्हें राहुल गांधी के दिए हुए सुझावों पर अमल करना ही पड़ा।

शिवसेना ने कहा कि राहुल गांधी जिन मुद्दों को उठाते हैं और केंद्र सरकार को घेरते हैं, वह सटीक होते हैं। वहीं दूसरे विपक्षी नेताओं पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने कहा कि इस वक्त सभी विपक्षी दलों को ट्वीटर से उतर कर जमीन पर आना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here