MP: अस्पताल में ऑक्सीजन बंद होने से चार COVID मरीजों की मौत का लगा आरोप, जिला प्रशासन का इंकार

0
207
MP: अस्पताल में ऑक्सीजन बंद होने से चार COVID मरीजों की मौत का लगा आरोप, जिला प्रशासन का इंकार

बड़वानी के एडिशनल कलेक्टर लोकेश कुमार जांगीड़ ने माना कि शनिवार को अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर से प्रशासन को शिकायत मिली थी. जिसमें कहा गया कि सेंट्रल पाइपलाइन में ऑक्सीजन का फ्लो अपर्याप्त है

भोपाल: 

, देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामलों में उछाल के बीच मरीजों और उनके परिजनों के ऑक्सीजन के लिए दर दर भटकने की खबरें आ रही हैं. कुई जगहों पर ऑक्सीजन की कमी की वजह से लोगों की जान तक चली गई. मध्य प्रदेश के बड़वानी के जिला अस्पताल में चार कोविड-19 मरीजों की मौत की खबर सामने आ रही है. मृतकों के परिजनों का आरोप है कि बड़वानी के जिला अस्पताल में चार कोरोना मरीजों की मौत हो गई. वहीं, जिला प्रशासन ने ऑक्सीजन आपूर्ति में बाधा आने की बात स्वीकारते हुए कहा कि इस एक व्यक्ति की मौत हुई है और वो भी दिल का दौरा पड़ने से

एनडीटीवी के साथ साझा किए गए वीडियो में दिख रहा है कि ऑक्सीजन की आपूर्ति में खामी के बाद मरीजों के परिजनों के बीच अफरा तफरी मच गई. मरीजों के परिजनों का आरोप है कि ऑक्सीजन फ्लो को कम से कम आधा घंटे के लिए बंद कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि जो अधिकारी मौतों की बात से इनकार कर रहे हैं वो झूठ बोल रहे हैं. 

एक मरीज की महिला रिश्तेदार ने कहा, “मेरे बच्चे का ऑक्सीजन लेवल सुबह से 94 पर था. अचानक से फ्लो रोक दिया, जिससे अफरातफरी मच गई. मेरा बच्चा तड़प रहा था. हमारी मदद करने के लिए वहां न तो डॉक्टर थे और न ही कोई और.” 

एक अन्य रिश्तेदार डॉक्टर प्रतीक सोनी ने भी इसी तरह के आरोप लगाते हुए कहा कि ऑक्सीजन फ्लो बंद होने की वजह से उन्होंने कंजन को खो दिया. डॉक्टर सोनी ने कहा, “कम से कम चार लोगों की मौत हुई है जबकि कलेक्टर सिर्फ एक मरीज की मौत होने का दावा कर रहे हैं. वह झूठ बोल रहे हैं.”

बड़वानी के एडिशनल कलेक्टर लोकेश कुमार जांगीड़ ने माना कि शनिवार को अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर से प्रशासन को शिकायत मिली थी. जिसमें कहा गया कि सेंट्रल पाइपलाइन में ऑक्सीजन का फ्लो अपर्याप्त है. उन्होंने कहा, “हमारे ऑक्सीजन मैकेनिक इस समस्या को ठीक करके फ्लो को बहाल कर दिया था. ऑक्सीजन के लो फ्लो की वजह से कोई मौत नहीं हुई है. दिल का दौरा पड़ने से एक मरीज की मौत हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here