अगस्त से बैंकिंग सेक्टर में ग्राहकों के लिए कई बड़े बदलाव होने हैं.एटीएम से पैसा निकालना 1 अगस्त से महंगा हो जाएगा.

0
186
अगस्त से बैंकिंग सेक्टर में ग्राहकों के लिए कई बड़े बदलाव होने हैं.एटीएम से पैसा निकालना 1 अगस्त से महंगा हो जाएगा.

नई दिल्ली: 

ATM Transaction Charges 1st August : अगस्त महीने से साप्ताहिक अवकाश या सरकारी छुट्टियों के दिन वेतन या पेंशन न आने का झंझट नहीं रहेगा. यानी अगर 30, 31 तारीख को अगर शनिवार-रविवार या फिर कोई घोषित अवकाश पड़ता है तो भी सैलरी-पेंशन खाते में आएगी.  लेकिन एटीएम से पैसा निकालना पर ग्राहकों को ज्यादा जेब ढीली करनी पड़ेगी. जानिए 1 अगस्त से किन नियमों (Rules Changes August 1) में बदलाव आया है, जिसका आप पर असर पड़ा है. आईसीआईसीआई बैंक ने भी बैंकिंग शुल्कों में बढ़ोतरी कर दी है.

रिजर्व बैंक ने पिछले माह ऐलान किया था कि नेशमल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) की सेवाएं हफ्ते में हर दिन उपलब्ध रहेंगी. NACH एक पेमेंट सिस्टम है, जिसका संचालन नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ इंडिया करता है. यह लाभांश, ब्याज, सैलरी और पेंशन ट्रांसफर का कामकाज देखती है. .यह गैस, बिजली, टेलीफोन, पानी जैसे बिलों के पेमेंट का कलेक्शन भी करती है. साथ ही लोन ईएमआई (Loan EMI) , म्यूचुअल फंड और बीमा प्रीमियम की किस्तों (mutual funds and insurance premium) को इकट्ठा करने का काम भी करती है. 

ATM से धन निकासी महंगी होगी
1 अगस्त से एटीएम से धन निकासी (ATM cash withdrawal) महंगी हो जाएगी, क्योंकि एटीएम के जरिये एक बैंक से दूसरे बैंक के बीच वित्तीय लेनदेन पर लगने वाली इंटरचेंज फीस को आरबीआई ने 15 से बढ़ाकर 17 रुपये दिया है. आरबीआई ने यह फैसला जून में लिया था जो 1 अगस्त (August 1) से लागू हो जाएगा. गैर वित्तीय लेनदेन के लिए भी फीस बढ़ाकर 5 से 6 रुपये कर दी गई है. इंटरचेंज फीस किसी बैंक खाताधारक द्वारा उसे मिले एटीएम कार्ड (ATM card) दूसरे बैंक के एटीएम का इस्तेमाल करते वक्त लगती है.  

पोस्ट पेमेंट्स बैंक की सेवाएं भी महंगी
इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) ने भी उसकी डोरस्टेप डिलिवरी सेवाओं (doorstep services) का इस्तेमाल करने वालों के लिए शुल्क बढ़ा दिया है. पोस्ट पेमेंट्स बैंक अब हर बार इन सेवाओं के लिए 20 रुपये फीस (जीएसटी अतिरिक्त) लेगा. हालांकि डोरस्टेप सर्विस के लिए जब पोस्ट पेमेंट्स बैंक (India Post Payments Bank) का कर्मी घर आएगा तो उपभोक्ता कई बार लेनदेन कर सकता है, लेकिन चार्ज एक बार का ही लगेगा.लेकिन एक जगह पर ही अगर कई उपभोक्ता अलग-अलग उसकी सेवाओं का इस्तेमाल करते हैं तो चार्ज अलग ही लगेगा.

ICICI बैंक ने ATM लेनदेन शुल्क बढ़ाया
आईसीआईसीआई बैंक ने भी घरेलू बचत खाताधारकों के लिए एटीएम लेनदेन का शुल्क और चेक बुक चार्ज (Cheque Book Charges) 1 अगस्त से बढ़ाने का ऐलान कर दिया है. बैंक डिपॉजिट और निकासी दोनों के लिए ही शुल्क में बदलाव किया गया है. अब सिर्फ चार बार ही मुफ्त लेनदेन एटीएम (ATM Free Transactions) से हो सकेगा. बैंक की वेबसाइट के अनुसार, चार बार से ज्यादा नकद निकासी पर 150 रुपये का भारी भरकम शुल्क लगाया जाएगा. 

एसबीआई ने पहले ही बढ़ाया शुल्क
स्टेट बैंक (SBI) ने 1 जुलाई से ही एटीएम से मुफ्त नकद निकासी की संख्या सीमित कर दी है. एसबीआई ने हर माह चार बार से ज्यादा एटीएम (Cash Withdrawl)  या बैंक शाखा से नकद निकासी (ATM Transaction) पर शुल्क लगा दिया है. बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट के खाताधारकों को 1 जुलाई से चार बार से ज्यादा एटीएम या शाखा से नकद निकासी पर अतिरिक्त शुल्क देना होगा. देश में करीब एक तिहाई बैंकिंग बचत खाताधारक एसबीआई के ही हैं. इन एसबीआई खाताधारकों को एक साल में चेकबुक (Cheque Book) की 10 से ज्यादी लीव के इस्तेमाल पर भी अतिरिक्त शुल्क देना होगा.

हिंदुस्तान हिंदी टाइम्स Whatsapp Group link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here