‘अग्निपथ’: हिंसा और नेताओं पर हमलों को लेकर बिहार सरकार पर BJP भड़की, JDU ने कहा- क्या युवाओं पर गोली चलवा दें?

0
360

अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) को लेकर पूरे देश में बवाल हो रहा है. बिहार में इसका अच्छा खासा असर देखने को मिला है. बिहार में जमकर हिंसा हो रही है. युवा प्रदर्शनकारी सड़कों पर हैं. ट्रेनें, वाहन जला दिए गए. बड़े पैमाने पर नुकसान पहुँचाया गया. बीजेपी (BJP) नेताओं पर भी हमले हुए. बीजेपी नेताओं के घरों में सिलिंडर तक फेंक दिए गए. नेताओं को घेरा गया. हिंसा और अपने नेताओं पर हुए हमलों को लेकर बीजेपी ने बिहार की नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. भाजपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष और बीजेपी सांसद डॉ. संजय जायसवाल ने इस विरोध को एक साजिश बताते हुए कहा कि पूरे हिंदुस्तान में जो नहीं हुआ, वह बिहार में हो रहा है

संजय जायसवाल ने कहा कि पांच दिन पहले अग्निपथ योजना प्रारंभ की गई. विरोधी दलों के द्वारा खास एजेंडा के तहत बिहार को पूरी तरह तबाह करने की कोशिश की गई. छात्रों को भड़काया गया. पूरी मशीनरी भी इसमें साथ दे रही है. भाजपा के मधेपुरा कार्यालय को जलाया गया वहां 300 पुलिसकर्मी थे, सभी दर्शक बनकर बैठे रहे. नवादा में भी भाजपा कार्यालय तोड़ा गया, वहां भी पुलिस थी. कहीं न कहीं प्रशासन की दयनीय स्थिति रही. आज प्रशासन सक्रिय रहा तो बहुत कुछ देखने को नहीं मिला. विरोध करने का हक सभी को है. हम सभी अलग-अलग दल के है, लेकिन जिस तरह बीजेपी के दफ्तरों को टारगेट बनाकर जलाया गया, वह गलत है. जो हो रहा है, बहुत गलत हो रहा है. इस दौरान डॉ. जायसवाल ने कई वीडियो क्लिप भी दिखाए. एक प्रश्न के उत्तर में भाजपा नेता ने कहा कि जाहिर तौर पर हमलोग सरकार में हैं. बिहार में जो घटनाएं हो रही हैं, वह झारखंड और पश्चिम बंगाल में भी नहीं हुआ, जहां हम लोगों की सरकार नहीं है

जेडीयू ने इन आरोपों का दिया ये जवाब
वहीं, नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने इन आरोपों का जवाब भी दिया है. जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष राजीव रंजन ने कहा कि नीतीश कुमार शासन प्रशासन की कमान सँभालने में सक्षम हैं. उन्हें बीजेपी के संजय जायसवाल से कुछ सीखने की ज़रूरत नहीं है. हिंसा और बवाल हो रहा है तो क्या करें. क्या युवाओं को गोली मरवा दें. बवाल और हिंसा तो वहाँ भी हो रही है जहां बीजेपी की सरकारें हैं. उन्होंने सवाल किया कि बीजेपी की सरकारें वहाँ प्रदर्शन कर रहे युवाओं को गोली मरवा रही है? आखिर क्यों ऐसा नहीं हो रहा है? प्रशासन स्थिति संभाल रहा है. इसमें किसी की कोई साजिश नहीं है. संजय जायसवाल का मानसिक संतुलन सही नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here