कांग्रेस के ताजा विवाद पर महासचिव हरीश रावत ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंप दी है.

0
32
कांग्रेस के ताजा विवाद पर महासचिव हरीश रावत ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंप दी है.

नई दिल्ली. पंजाब कांग्रेस के ताजा विवाद पर पंजाब कांग्रेस के प्रभारी महासचिव हरीश रावत ने शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंप दी है. सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद हरीश रावत ने कहा कि पंजाब की स्थिति से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अवगत करा दिया गया है. उन्होंने कहा कि ‘पंजाब में हालात नियंत्रण में है और सोनिया गांधी को स्थिति से अवगत करा दिया है.’

हरीश रावत ने कांग्रेस अध्यक्ष से बैठक के बाद कहा कि पंजाब में सभी से हमारी अपेक्षा है कि वह एक-दूसरे को समझेंगे और एक-दूसरे की भावना का आदर करेंगे और सबको साथ लेकर चलेंगे और साथ लेकर चलने का प्रयास करेंगे. हरीश रावत ने कहा कि देहरादून में मुझसे मिलने जो विधायक आये थे, उन्होंने भी कहा था कि जो कांग्रेस अध्यक्ष कहेंगी वही मान्य होगा.

देहरादून में हाल ही में सरकार के 4 मंत्री और 3 विधायकों ने हरीश रावत से मुलाकात कर अमरिंदर सिंह के चेहरे के नेतृत्व में चुनाव न लड़ने की मांग की थी, लेकिन बैठक के बाद हरीश रावत ने साफ किया था कि चेहरा अमरिंदर सिंह ही होंगे. सोनिया गांधी से बैठक के बाद हरीश रावत ने ये भी कहा कि अभी तक 3 पक्ष या दो पक्ष जो भी है उनसे अपेक्षा की गई है कि वह सब मिलकर एक-दूसरे का आदर करेंगे

इस बीच नवजोत सिंह सिद्धू ने भी पार्टी को धमकी देते हुए कहा है कि अगर उन्हें फैसले लेने की छूट नहीं दी गई तो वो ईंट से ईंट बजा देंगे. हालांकि सिद्धू के इस बयान पर हरीश रावत ने कहा कि उनका अपना अंदाजे बयां है और प्रदेश अध्यक्ष के बतौर वो हर फैसले लेने को स्वतंत्र हैं. उधर दूसरी तरफ नवजोत सिंह सिद्धू के सहयोगी मलविंदर सिंह माली ने भी कश्मीर पर अपने विवादास्पद बयान के बाद इस्तीफा दे दिया है.

हिंदुस्तान हिंदी टाइम्स Whatsapp Group link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here