केंद्र सरकार ने जताई उम्मीद,जल्द आ सकती है बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन

0
126
केंद्र सरकार ने जताई उम्मीद,जल्द आ सकती है बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन

 केंद्र सरकार ने कहा है कि दो हफ्तों में zydus cadila की वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की अनुमति मिल सकती है. इस वैक्सीन का 12 से 18 साल तक के बच्चों पर ट्रायल हुआ है. वहीं भारत बायोटेक की वैक्सीन का 2 से 18 साल के बच्चों पर ट्रायल लगभग पूरा हो चुका है. इसके अलावा नोवावैक्स को भी बच्चों पर ट्रायल की अनुमति मिल गई है. वहीं बायो ई ने भी ट्रायल की अनुमति मांगी है.

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने कहा है कि जहां तक बच्चों की वैक्सीन का सवाल है, कुछ देशों ने इसे लागू किया है. हमारी भी इस बारे में कोशिश जारी है. भारत बायोटेक का ट्रायल चल रहा है, zydus cadilla की वैक्सीन जिसका बच्चों पर ट्रायल हुआ है उसको इमरजेंसी यूज देने के बारे में जल्द कुछ फैसला अगले एक-दो हफ्ते में हो जाएगा.

दरअसल zydus cadila की कोरोना वैक्सीन ZycovD का तीसरे चरण का ट्रायल पूरा हो चुका है. zydus cadila की zycovD वैक्सीन ने कोरोना की वैक्सीन के लिए CDSCO यानी सेंट्रल ड्रग स्टैंडर्ड कंट्रोल आर्गेनाईजेशन के पास इमरजेंसी यूज इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है. इस पर CDSCO की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी में डेटा एनालिसिस हो रहा है.

वहीं दूसरी वैक्सीन जिसका बच्चों पर ट्रायल लगभग पूरा हो चुका है वो है, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन. भारत बायोटेक की वैक्सीन का 2 से 18 साल के उम्र के बच्चों पर ट्रायल आखरी चरण में है. ट्रायल इस हफ्ते खत्म हो जाएगा. इसके अलावा दो और कंपनियां नोवावैक्स, और बायोलॉजिकल ई ने बच्चों पर कोरोना वैक्सीन के ट्रायल की इजाजत मांगी है. जिसमें नोवावैक्स को बच्चों पर ट्रायल की अनुमति मिल गई है जबकि बायो ई को मिलना बाकी है.

हिंदुस्तान हिंदी टाइम्स Whatsapp Group link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here