गुरुग्राम के निजी अस्पताल में 6 कोविड मरीजों की मौत, परिजनों ने लगाया ऑक्सीजन खत्म होने का आरोप

0
198
गुरुग्राम के निजी अस्पताल में 6 कोविड मरीजों की मौत, परिजनों ने लगाया ऑक्सीजन खत्म होने का आरोप

गुरुग्राम के सेक्टर 56 के कीर्ति अस्पताल में उस समय हंगामा मच गया जब रात करीब साढ़े दस बजे अस्पताल के डॉक्टर्स अचानक गायब हो गए और अस्पताल में इलाज करा रहे लगभग 20 कोविड मरीज भगवान भरोसे हो गए.

नई दिल्ली: 

दिल्ली से सटे साइबर सिटी गुरुग्राम से एक दर्दनाक खबर सामने आई है, जहां गुरुग्राम के सेक्टर 56 इलाके में कीर्ति अस्पताल में एक ही रात में 6 कोविड मरीज़ो की अचानक मौत हो गई. परिजनों ने आरोप लगाया है कि रात में अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म हो गई जिसकी वजह से इलाज कर रहे डॉक्टर्स यहां से भाग गए और मरीजो को भगवान भरोसे छोड़ गए. आरोप है कि जिसके बाद अस्पताल में भर्ती लगभग 20 मरीजो में से 6 मरीजो की ऑक्सीजन की कमी से मौत हो गई.

गुरुग्राम के सेक्टर 56 के कीर्ति अस्पताल में उस समय हंगामा मच गया जब रात करीब साढ़े दस बजे अस्पताल के डॉक्टर्स अचानक गायब हो गए और अस्पताल में इलाज करा रहे लगभग 20 कोविड मरीज भगवान भरोसे हो गए. दरअसल ये कहना है कि अस्पताल में भर्ती मरीजों के तीमारदारों का, जिन्होंने अस्पताल पर आरोप लगाया है कि रात में अस्पताल में अचानक ऑक्सीजन खत्म हो गई जिसके बाद इलाज कर रहे डॉक्टर्स यहां से भाग गए और 6 मरीजों की ऑक्सीजन की कमी से मौत हो गई. घटना के बाद से मृतक के परिजनो का रो-रो कर बुरा हाल है. जब लोगों को रात में पता चला कि अस्पताल से डॉक्टर भाग गए हैं तो अस्पताल में मौजूद परिजनों ने यहां पर हंगामा करना शुरु कर दिया जिसके बाद लोगों के पुलिस को बुला लिया और पुलिस पर भी आरोप लगाने लगे कि पुलिस के सामने से डॉक्टर्स भाग गए हैं.

रात में गुस्साए परिजनों ने कीर्ति अस्पताल की सीढ़ियों पर रखे गमले भी फेंक कर मारे जिसकी वजह से सीढ़ियां टूट गई. रात में जब अस्पताल में डॉक्टर्स नहीं थे तो उस समय जैसे तैसे पुलिस ने इधर उधर से डॉक्टरों की टीम बुलाई, लेकिन तब तक 6 कोविड मरीजों की मौत हो चुकी थी. सुरक्षा के मद्देनजर अस्पताल के बाहर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है ताकि गुस्साए तीमारदार किसी प्रकार का हंगामा ना कर सके. लेकिन सुबह अपनों के शवों को देखकर परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है और इन सब के लिए अस्पताल का दोष बता रहे हैं. 

इस पूरे मामले में जब हमने जिला प्रशासन के अधिकारियों से बात करने की कोशिश की तो कोई भी अधिकारी फोन उठाने तक को तैयार नहीं है. बीते रविवार को भी गुरुग्राम के एक कथूरिया अस्पताल में चार कोविड मरीजो की मौत के बाद जिला प्रशासन मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए थे ऐसे में देखना होगा कि क्या जिला प्रशासन यहां भी कोई जांच कराए ताकि ये पता चल सके कि कीर्ति अस्पताल में हुई 6 मरीजो की मौत का जिम्मेवार कौन है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here