दिल्ली,बिहार उत्तर प्रदेश आपके शहर में गर्मी ने फिर अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है

0
285
दिल्ली,बिहार उत्तर प्रदेश आपके शहर में गर्मी ने फिर अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है

नई दिल्ली. उत्तर भारत में गर्मी से बुरा हाल है. तापमान 39 डिग्री को पार कर 40 के आसपास पहुंत चुका है. दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और बिहार में सभी जगह हालात कमोबेश एक जैसे ही हैं. पिछले दिनों आए चक्रवात की वजह से कुछ राज्यों में मौसम खुशगवार का रहा, लेकिन उसका असर खत्म होते ही गर्मी ने फिर अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है. अब तो रात में भी लोगों को गर्मी से आराम नहीं मिल पा रहा. आइए जानते हैं उत्तर भारत में कैसा है मौसम का हाल और कब तक मिल सकती है राहत

दिल्‍ली में तापमान कम होने की गुंजाइश

दिल्ली में रविवार को गर्मी ने काफी परेशान किया. अच्छी बात यह रही कि यहां अधिकतम तापमान 38.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि औसत से दो डिग्री कम था. यहां फिलहाल अधिकतम तापमान 40 डिग्री और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के नजदीक रह सकता है. मौसम विभाग ने बताया कि सोमवार को कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है और शनिवार से तापमान में गिरावट होने की संभावना है.

पटना में फिलहाल गर्मी से राहत नहीं
इस वक्त में पटना में दिन का तापमान 40 डिग्री के करीब पहुंच रहा है. प्रदेश के सभी जिलों में ऐसी ही हालत है और आने वाले दिनों में भी पटना में फिलहाल गर्मी से राहत मिलने के आसार नहीं हैं. लेकिन मौसम विभाग की मानें, तो 12 जून से यहां मौसम का रुख बदल सकता है. विभाग के मुताबिक 15 जून के आसपास यहां मानसून दस्तक दे सकती है, जिसके बाद तापमान में गिरावट से मौसम खुशगवार हो सकता है.

लखनऊ में लोगों को नहीं मिलेगी गर्मी से राहत

उत्तर प्रदेश की राजधानी में गर्मी कम होने का नाम ही नहीं ले रही है. यहां रविवार को तापमान 40 डिग्री, जबकि उम्मीद जताई जा रही है कि सोमवार को यहां का तापमान 41 डिग्री के भी पार हो सकता है. वहीं, शहर का न्यूनतम तापमान 29 डिग्री के आसपास रहने का अनुमान है. मौसम विभाग के मुताबिक यहां 12 जून से लोगों को गर्मी से राहत मिल सकती है क्योंकि 12 और 13 जून को प्रदेश में बारिश की गुंजाइश है

ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में पहुंचा मानसून

दक्षिण पश्चिम मानसून के अगले दस दिनों में ओडिशा, झारखंड, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों और बिहार में पहुंचने का अनुमान है. यह जानकारी शनिवार को मौसम विज्ञान विभाग ने दी. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि दक्षिण पश्चिम मानसून मध्य अरब सागर, कर्नाटक के तटीय क्षेत्रों, गोवा, महाराष्ट्र के कुछ हिस्से, कर्नाटक के अंदरूनी हिस्से, तेलंगाना के कुछ हिस्से और आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों, मध्य बंगाल की खाड़ी और बंगाल की खाड़ी के पूर्वोत्तर हिस्सों तक पहुंच चुका है. आईएमडी के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के राजेंद्र जेनामानी ने कहा कि सात-आठ जून को कम बारिश होने का अनुमान है.

जून में सामान्य बारिश का अनुमान

उन्होंने कहा, ’11 जून तक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. इससे मानसून की प्रगति में सहयोग मिलेगा और इसके ओडिशा, झारखंड, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों और बिहार की तरफ बढ़ने की संभावना है.’ मानसून दो दिनों की देरी से तीन जून को केरल पहुंचा था. आईएमडी ने जून में सामान्य बारिश होने का अनुमान जताया है. इसने कहा कि अगले पांच दिनों तक देश में लू की स्थिति बनने की संभावना नहीं है.

गुजरात, राजस्थान और ओडिशा में तापमान 40 डिग्री के पार

आईएमडी ने कहा कि राजस्थान के अधिकतर हिस्से, उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों, हरियाणा, सौराष्ट्र और गुजरात के कच्छ तथा ओडिशा में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक रहा. सबसे अधिक 43.2 डिग्री सेल्सियस तापमान उत्तरप्रदेश के बांदा में दर्ज किया गया. आईएमडी ने कहा, ‘अगले पांच दिनों तक देश में लू की स्थिति नहीं होने का अनुमान है. इस बीच उत्तर भारत सहित देश के कई हिस्सों में बारिश हो रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here