दिल्ली में कोरोना की रफ्तार हुई कम, एक दिन में 2200 नए मामले, संक्रमण दर भी 3.5% से नीचे

0
156
दिल्ली में कोरोना की रफ्तार हुई कम, एक दिन में 2200 नए मामले, संक्रमण दर भी 3.5% से नीचे

केजरीवाल ने कहा, “खुशखबरी है कि दिल्ली में कोरोना की रफ्तार काफी कम हो गई है. पिछले 24 घंटों में 2200 नए मामले और संक्रमण दर 3.5% रह गई है. अब चिंता की बात नहीं है.

कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों में लगातार तेजी से कमी आ रही है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना की रफ्तार कम हुई है और एक दिन में यह 2200 नए मामले तक आ गया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब संक्रमण दर भी 3.5% से नीचे आ गया है. उन्होंने कहा, “खुशखबरी है कि दिल्ली में कोरोना की रफ्तार काफी कम हो गई है. पिछले 24 घंटों में 2200 नए मामले और संक्रमण दर 3.5% रह गई है. अब चिंता की बात नहीं है.

केजरीवाल ने कहा कि आज से दिल्ली में युवाओं का टीकाकरण बंद हो गया है. उन्होंने कहा, “केंद्र सरकार ने युवाओं के लिए जितने वैक्सीन भेजे थे, वह खत्म हो गए. इसलिए टीकाकरण बंद हो गया है. कुछ वैक्सीन बची हुई थी वह आज शाम तक खत्म हो जाएंगी. कल से पूरी तरह से टीकाकरण बंद हो जाएगा.”

डिजिटल प्रेस कॉन्प्रेन्स में सीएम ने कहा, “यह दुख की बात है लेकिन जैसे ही हमें वैक्सीन मिलेगी, हम फिर से टीकाकरण शुरू कर देंगे.” उन्होंने कहा, “दिल्ली को हर महीने 80 लाख वैक्सीन की जरूरत है लेकिन इसके मुकाबले मई महीने में हमें सिर्फ 16 लाख वैक्सीन मिली और जून में इसको घटाकर केवल आठ लाख कर दिया जाएगा. ऐसा केंद्र सरकार की चिट्ठी में बताया गया है.”

उन्होंने कहा कि हमें 2.5 करोड़ और वैक्सीन चाहिए. जिस रफ्तार से हमको वैक्सीन दी जा रही हैं उसके हिसाब से पूरी दिल्ली में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाने में 30 महीने लग जाएंगे. केजरीवाल ने कहा अस्पतालों में बेड्स, ऑक्सीजन, दवाई का इंतजाम तो हम कर रहे हैं लेकिन इस बीमारी के घातक असर से बचाने के लिए वैक्सीनेशन बहुत जरूरी है.

केजरीवाल ने एक वाकया सुनाते हुए कहा, “कल एक अम्मा का फोन आया कि मुझे और मेरे बेटे को वैक्सीन लगवानी है. उनकी उम्र 65 साल थी. मैंने उनको कहा कि आपको लगवा दूंगा, आपके बेटे को नहीं लगवा सकता तो अम्मा ने कहा कि मेरी वाली वैक्सीन मेरे बेटे को लगवा दो क्योंकि वह घर से बाहर जाता है. उसका सुरक्षित रहना बहुत जरूरी है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here