नरेंद्र मोदी, अमित शाह को लगता है, हम चुप हो जाएंगे, मगर…..राहुल गांधी

0
72

नई दिल्ली : 

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कर उन्हें और अन्य विपक्षी आवाजों को चुप कराने की साजिश रच रहे हैं. उन्होंने दावा किया कि सरकार दबाव की रणनीति का भरपूर इस्तेमाल कर रही है. गांधी से प्रवर्तन निदेशालय ने जून में मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में पांच दिनों में लगभग 50 घंटे तक पूछताछ की थी. नेशनल हेराल्ड अखबार से जुड़े कथित मनी लॉन्ड्रिंग को लेकर केंद्रीय एजेंसी ने उनकी मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी पूछताछ की थी.

“अगर आप नेशनल हेराल्ड की बात कर रहे हैं, तो पूरा मामला डराने-धमकाने का है. नरेंद्र मोदी और अमित शाह को लगता है कि थोड़े दबाव से हम चुप हो जाएंगे. लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे. नरेंद्र मोदी और अमित शाह जो कुछ भी लोकतंत्र के खिलाफ करना है कर लें,”राहुल गांधी ने कहा. नेशनल हेराल्ड से जुड़े मामले को लेकर प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दिल्ली में यंग इंडियन के कार्यालय को सील किए जाने के बाद कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में शामिल होने से पहले राहुल गांधी पत्रकारों से बात कर रहे थे.  

राहुल गांधी ने कहा,”देश और लोकतंत्र की रक्षा तथा सद्भाव बरकरार रखने के लिए वह लड़ाई लड़ते रहेंगे.”

भाजपा के एक आरोप के संदर्भ में कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘भागने की बात कौन कर रहा है, भागने की बात वो कर रहे हैं. हम डरने वाले नहीं हैं। हम नरेंद्र मोदी से नहीं डरते हैं। कर लें जो करना है। कुछ फर्क नहीं पड़ता.”

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा काम है देश की रक्षा करना, लोकतंत्र की रक्षा करना, देश में सद्भाव को बरकरार रखना, वो मैं करता रहूंगा…”

उल्लेखनीय है कि प्रवर्तन निदेशालय ने धनशोधन के मामले में अपनी कार्रवाई के तहत बुधवार को दिल्ली में ‘नेशनल हेराल्ड’ कार्यालय में ‘यंग इंडियन’ कंपनी के परिसर को ‘अस्थायी रूप से सील’ कर दिया था।

कांग्रेस ने यह दावा किया कि दिल्ली पुलिस ने उसके मुख्यालय, पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के आवासों को घेर लिया। उसने सरकार पर ईडी के दुरुपयोग का आरोप भी लगाया है।

इससे पहले, ईडी ने ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़े धनशोधन के मामले में ही सोनिया गांधी और राहुल गांधी से पूछताछ की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here