बिहार: कोरोना से अनाथ हुए मासूमों की मदद करेगी सरकार, 18 साल का होने तक हर महीने 1500 रुपये

0
247
बिहार: कोरोना से अनाथ हुए मासूमों की मदद करेगी सरकार, 18 साल का होने तक हर महीने 1500 रुपये

बिहार सरकार ने रविवार को उन बच्चों के लिए सहायता का ऐलान किया है, जिन्होंने कोविड-19 के चलते अपने माता-पिता को खो दिया है.

पटना: 

बिहार सरकार ने रविवार को उन बच्चों के लिए सहायता का ऐलान किया है, जिन्होंने कोविड-19 के चलते अपने माता-पिता को खो दिया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्विटर के माध्यम से ‘बाल सहायता योजना’ की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि वैसे बच्चे-बच्चियों, जिनके माता पिता दोनो की मृत्यु हो गई, जिनमें कम से कम एक की मृत्यु कोरोना से हुई हो, उनको ‘बाल सहायता योजना’ अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा 18 वर्ष होने तक 1500 रुपये प्रतिमाह दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि जिन अनाथ बच्चे-बच्चियों के अभिभावक नहीं हैं, उनकी देखरेख बालगृह में की जाएगी. ऐसे अनाथ बच्चियों का कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में प्राथमिकता पर नामांकण कराया जाएगा.

बिहार सरकार से पहले उत्तर प्रदेश, हरियाणा समते कई राज्य ऐसे बच्चों के लिए सहायता योजनाओं का ऐलान कर चुके हैं. केंद्र सरकार की तरफ से भी पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन का ऐलान किया गया है. अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल की दूसरी वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कोविड-19 के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की. ऐसे बच्चों को 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर मासिक वित्तीय सहायता और 23 वर्ष की आयु पूरी करने पर पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये की राशि मिलेगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार में शनिवार को कोविड-19 के 1491 नए मामले सामने आए तथा 48 और मरीजों की मौत हो गयी. बिहार में धीरे-धीरे कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों में लगातार गिरावट देखी जा रही है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से 48 मरीजों की मौत होने से मृतक संख्या 5,052 बढ़कर हो गयी. विभाग के मुताबिक नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 7.04 लाख के पार हो गयी है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here