बिहार, तेजस्वी और राबड़ी वापस न लाते तो हम रांची में ही मर जाते : लालू प्रसाद यादव

0
194
बिहार, तेजस्वी और राबड़ी वापस न लाते तो हम रांची में ही मर जाते : लालू प्रसाद यादव

पटना: 

राष्ट्रीय जनता दल की सिल्वर जुबली पर राष्ट्रीय जनता दल के नेता लालू प्रसाद यादव ने भी दिल्ली में बैठे-बैठे अपनी पार्टी और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया.उन्होंने कहा कि उन्हें मलाल है कि वह 2020 के चुनाव प्रचार में नहीं आ पाए. तेजस्वी ने कहा कि चिंता न करें. वैसे भी आरेजडी का भविष्य बहुत उज्ज्वल है.  हम आज तक कर्पूरी ठाकुर के सपनों को पूरा कर रहे हैं.  हमारे साथ जनता की ताकत है. इसी ताकत से आज बात कर पा रहे हैं. हम लगातार संघर्ष करते रहेंगे और गरीबों की आवाज उठाते रहेंगे.

लालू ने अपने कार्यकर्ताओं को तबीयत के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा कि हम बीमार हैं. तेजस्वी और हमारी पत्नी राबड़ी नहीं होतीं तो हम रांची में ही मर जाते. वो ट्रेन से हमें उठाकर लाए. एम्स में हमारा इलाज चल रहा है. खाने-पीने में परहेज रखना है. पानी भी कम पीना है. हम बिहार आएंगे, आप धैर्य रखें, धैर्यू को टूटने ना दें.

लालू यादव ने भाषण के दौरान अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव के भाषण की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि तेजप्रताप ने जो भाषण दिया, उसमें दम है. तेजस्वी यादव के लिए वह बोले कि इतनी कम उम्र में इतने दौरे करना, पार्टी को संभालना और इतनी सीटें लाना आसान काम नहीं है. वह खुद हैरान हैं, लेकिन ये भी जनता की ताकत से ही संभव हो पाया है. उन्होंने ये भी कहा कि जितना धूमधाम से आज स्थापना दिवस मनाया गया, वैसा तो उनके काल में भी कभी नहीं हुआ. 

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए लालू ने महंगाई और बेरोजगारी को कोरोना से भी ज्यादा घातक बताया. इसने जनता की कमर तोड़ दी है. उन्होंने साथ ही में केंद्र को भी बिना नाम लिए घेरा. लालू ने कहा कि सामाजिक तानाबाना खराब किया जा रहा है. अयोध्या के बाद मथुरा की बात कर रहे हैं, ये क्या है. सत्ता के लिए ये लोग देश को बर्बाद कर देना चाहते हैं. आरजेडी से यही कहूंगा कि सामाजिक तानाबाना को मजबूत बनाने का काम करते रहें. मैं लोगों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि हम मिट जाएंगे, झुकेंगे नहीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here