ममता बनर्जी अपने दिल्ली दौरे पर हैं ममता ने बीजेपी को दी चुनौती कहा अगला चुनाव मोदी और पूरे देश के बीच होगा

0
231
ममता बनर्जी अपने दिल्ली दौरे पर हैं ममता ने बीजेपी को दी चुनौती कहा अगला चुनाव मोदी और पूरे देश के बीच होगा

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने पांच दिवसीय दिल्ली दौरे पर हैं जहां सबसे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिष्टाचार भेंट की वहीं उसके बाद बुधवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और सांसद राहुल गांधी से मुलाकात की।

दिल्ली पहुंची ममता बनर्जी ने विपक्ष को एकजुट करने के लिए पूरे जोर लगा दिए हैं और बीजेपी पर सीधा हमला बोलते हुए चुनौती दी है कि अगला चुनाव मोदी और पूरे देश के बीच होगा

उन्होंने कहा, “पूरे देश में खेला होगा. ये जारी रहने वाली प्रक्रिया है. जब अगला आम चुनाव होगा तो वो मोदी और पूरे देश के बीच होगा।” हालाँकि, बीजेपी के विरुद्ध विपक्ष का चेहरा बनने के सवाल पर स्पष्ट जवाब देने से इनकार करते हुए कहा है कि ये परिस्थिति पर निर्भर करेगा

इस बारे में बुधवार को एक पत्रकार वार्ता में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, मैं विपक्षी दलों की मदद कर रही हूँ. मैं नेता नहीं बनना चाहती, एक साधारण कार्यकर्ता रहना चाहती हूँ।

पश्चिम बंगाल चुनाव में शानदार जीत के बाद पहली बार दिल्ली पहुँचीं ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा था कि विपक्षी दलों की एकता अपने आप आकार ले लेगी। भारतीय जनता पार्टी के चुनावी नारे पर तंज़ कसते हुए ममता ने कहा, “मैं सच्चा दिन देखना चाहती हूँ, बहत दिन देख लिया अच्छा दिन

ममता बनर्जी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भी मुलाक़ात की। लेकिन सोनिया गाँधी और ममता बनर्जी की मुलाक़ात को राजनीतिक हल्कों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया

बीबीसी हिंदी की खबर के अनुसार, इस मुलाक़ात पर ममता बनर्जी ने कहा, “सोनिया जी ने मुझे चाय के लिए आमंत्रित किया था. राहुल जी भी वहीं थे. हमने पेगासस और देश में कोविड की स्थिति पर चर्चा की. हमने विपक्ष की एकजुटता पर भी बात की. ये काफ़ी अच्छी और सकारात्मक मुलाक़ात थी. बीजेपी को हराने के लिए सभी को एक साथ आना पड़ेगा. सभी को साथ काम करना पड़ेगा।”

पेगासस के मुद्दे पर उन्होंने कहा, “सरकार पेगासस के मुद्दे पर जवाब क्यों नहीं दे रही है. लोग जानना चाहते हैं. अगर नीतिगत फैसले संसद में नहीं होंगे, अगर वहां चर्चा नहीं होगी तो कहां होगी? ये चाय की रेड़ी पर नहीं संसद में होती हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here