शादी में जुटी 500 से ज्यादा की भीड़, बारातियों को करनी पड़ गई ‘मेंढक कूद’, Video आया सामने

0
172
शादी में जुटी 500 से ज्यादा की भीड़, बारातियों को करनी पड़ गई ‘मेंढक कूद’, Video आया सामने

भिंड में एक शादी में ज्यादा मेहमानों के शामिल होने पर पुलिस का डंडा पड़ गया. एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक शादी में शामिल मेहमानों से पुलिस मेंढक कूद करवा रही है. कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप में शादी में शामिल होने आए मेहमानों से पुलिस ने मेंढक कूद लगवाई.

भोपाल: 

मध्य प्रदेश में कोरोनावायरस के संक्रमण के दौरान हो रही एक शादी में ज्यादा मेहमानों के शामिल होने पर पुलिस का डंडा पड़ गया. एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एक शादी में शामिल मेहमानों से पुलिस मेंढक कूद करवा रही है. कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने के आरोप में यहां के भिंड के ऊमरी में शादी में शामिल होने आए मेहमानों से पुलिस ने मेंढक कूद लगवाई. यही नहीं, पुलिस ने दूल्हे समेत टैंट मालिक पर FIR भी दर्ज की है.

दरअसल, भिंड के ऊमरी में आदिम जाति कल्याण विभाग के छात्रावास में बुधवार को शादी समारोह का आयोजन चल रहा था. इस समारोह में 500 से ज्यादा लोगों को बुलावा भेजा गया था और जब पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां 300 से ज्यादा लोग शामिल थे. 

पुलिस को आते देख मौके पर हलचल मच गई और कई लोग वहां से भाग निकले, कुछ लोगों को पुलिस ने पकड़ भी लिया और उनसे सड़क पर मेंढक कूद लगवाई. पुलिस ने दूल्हा पक्ष के लोगों को जमकर फटकार लगाई. वहीं, बारात की तैयारी करके समारोह में भाग लेने आए मेहमानों से मेंढक चाल चलवाने की सजा दी गई.

वीडियो में देखा जा सकता है कि एक खेत के किनारे बने रास्ते पर पुलिस कई लोगों से मेंढक कूद लगवा रही है. वीडियों में कुछ 17 आदमी देखे जा सकते हैं. इस दौरान पुलिस उनके साथ चल रही है. एक आदमी सही ढंग से कूद नहीं लगा रहा है, तो एक पुलिसवाला उसपर डंडा लगाता भी दिख रहा है.

एमपी से इस महीने की शुरुआत में ही ऐसी ही एक और घटना सामने आई थी. इंदौर के पास देपालपुर में कोरोना कर्फ्यू के दौरान बेवजह बाहर घूम रहे लोगों को तहसीलदार ने मेंढक कूद करवाई थी. इस दौरान शारीरिक दूरी का पालन भी नहीं हुआ था. वहीं, जब एक युवक ऐसा नहीं कर पाया तो तहसीलदार ने उसे लात मारी थी. इस घटना पर काफी बवाल हुआ था.

इसके अलावा, पिछले हफ्ते बिहार के किशनगंज में एक बाजार में कोविड प्रोटोकॉल्स तोड़ने पर बहुत से युवाओं को बीच बाजार में कुहनियों पर रेंगने और मेंढक कूद करने की सजा दी गई थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here