संजय राउत ने पूछा, महाराष्ट्र के गौरव का अपमान करने वालों के साथ है क्या भाजपा

0
25
संजय राउत ने पूछा, महाराष्ट्र के गौरव का अपमान करने वालों के साथ है क्या भाजपा

मुंबई: 

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के साथ शिवसेना की तनातनी के बीच पार्टी सांसद संजय राउत ने रविवार को आश्चर्य जताया कि क्या भाजपा नेतृत्व उन लोगों का समर्थन कर रहा है, जो महाराष्ट्र के गौरव और स्वाभिमान का अपमान करते हैं. पार्टी के मुखपत्र ”सामना” के कार्यकारी संपादक राउत ने अपने साप्ताहिक कॉलम में कहा कि भाजपा की महाराष्ट्र इकाई के नेताओं देवेंद्र फडणवीस और चंद्रकांत पाटिल के अलावा, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह जैसे केंद्रीय नेताओं ने राणे को कथित तौर पर उन्हें अपना समर्थन देने के लिए फोन किया था. राउत ने पूछा, “अगर यह सच है तो यह महाराष्ट्र के स्वाभिमान और गौरव का अपमान है. महाराष्ट्र के गौरव और स्वाभिमान का अपमान करने वालों के समर्थन में दिल्ली क्यों खड़ी है?

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को थप्पड़ मारने वाली टिप्पणी को लेकर भाजपा सांसद राणे को 24 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था. इस टिप्पणी के बाद शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हिंसक विरोध प्रदर्शन किया था और कुछ शहरों में भाजपा के कार्यालयों में उन्होंने तोड़फोड़ की थी तथा राणे के समर्थकों से भिड़ गए थे. आलेख में राउत ने राणे और उनके बेटों- पूर्व सांसद नीलेश राणे और भाजपा विधायक नितेश राणे पर शिवसेना नेतृत्व के खिलाफ “अपमानजनक और असंसदीय” भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया. उन्होंने लिखा, “एक केंद्रीय मंत्री राज्य के मुख्यमंत्री को थप्पड़ मारने की बात करता है और भाजपा नेता असहाय होकर इधर-उधर देखते हैं.” 

राउत ने राणे की गिरफ्तारी को भाजपा नेताओं द्वारा कानूनी रूप से असंवैधानिक करार दिए जाने पर आश्चर्य व्यक्त किया. उन्होंने कहा, “किसी को भी प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री के पदों का अपमान करने का अधिकार नहीं है. राणे अक्सर यह अपराध करते रहे हैं. अगर किसी को लगता है कि इस संबंध में कार्रवाई करना अपराध है, तो यह संविधान का अपमान करने जैसा है.” राउत ने कहा कि राणे के बेटों ने उनके पिता के राजनीतिक करियर को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है. उन्होंने कहा, फडणवीस और चंद्रकांत पाटिल (महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष) का भी राणे के बेटों के कारण समान हश्र होगा. 

इस बीच, राणे ने ”जन आशीर्वाद यात्रा” के तहत अपने गढ़ कंकावली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया. उन्होंने अपने बेटों को निशाना बनाने के लिए राउत की आलोचना की और शिवसेना सांसद को व्यक्तिगत हमले करने से परहेज करने की हिदायत दी. एमएसएमई मंत्री ने कहा, “अगर यह जारी रहता है, तो मैं अपने समाचार पत्र ”प्रहार” के माध्यम से लेखों की एक श्रृंखला शुरू करूंगा.” उन्होंने अपने बेटों को प्यार और सम्मान देते हुए कहा, “वे अच्छी तरह से शिक्षित हैं और अच्छा व्यवहार कर रहे हैं.” उन्होंने कहा कि इसके विपरीत राउत शिवसेना के पतन के लिए जिम्मेदार हैं. अपनी यात्रा की सफलता के बारे में बताते हुए राणे ने कहा कि उनका मंत्रालय उद्यमिता और रोजगार के अवसरों को विकसित करने पर ध्यान केंद्रित करेगा. उन्होंने कहा, “मैं कोंकण क्षेत्र, शेष महाराष्ट्र और पूरे देश के विकास पर ध्यान केंद्रित करूंगा.

हिंदुस्तान हिंदी टाइम्स Whatsapp Group link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here