सनकी बाबा भक्तों को पीने के लिए देता था पेशाब और बलगम, शवों के ढेर के बारे में कही ये बात

0
318

बैंकॉक : आपने आज तक न जाने कितने तरह के सनकी बाबा, धर्मगुरु और मौलवियों के बारे में सुना होगा. लेकिन निश्चित तौर पर ऐसे सनकी बाबा के बारे में कभी नहीं सुना होगा. इस बाबा की हरकतें ऐसी कि घिन आ जाए. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि यह बाबा अपने भक्तों को पीने के लिए पेशाब (Urine) और खाने के लिए बलगम (Cough)देता था. इस बाबा को थाइलैंड पुलिस ने जंगल से गिरफ्तार किया है.

इस बाबा कि हरकतें सिर्फ इतने तक ही सीमित नहीं हैं. जब इस सनकी बाबा को पुलिस ने छैयाफुम प्रांत से गिरफ्तार किया तो वहां 11 लाशें भी बरामद कीं. बाबा कि पहचान 75 वर्षीय थावी नानरा के रूप में हुई है. यह बाबा एक पंथ का संचालक है और इसके अनुयायी लाशों की पूजा करते हैं. बाबा और उसके अनुयायी गहरे जंगल के अंदर कैंप बनाकर रहता था और पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधर पर छापा मारकर उसे गिरफ्तार किया

पुलिस को इस संबंध में सूचना देने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि एक महिला ने जानकारी दी कि उसकी मां बाबा के पास गई थी, लेकिन अब उसे वापस नहीं लौटने दिया जा रहा. पुलिस जब थावी नानरा को गिरफ्तार करने पहुंची तो उसके अनुयायी पुलिस से भिड़ गए और इस सनकी बाबा को ले जाने से रोकने की हर संभव कोशिश की.

घर के चारों तरफ अनुयायियों के शव

पुलिस के अनुसार यह सनकी बाबा एक दूर-दराज के गांव के पास जंगल में अपना एक पंथ चलाता था. यही वजह है कि उसके बारे में कभी किसी को पता नहीं चला. वह अपने लगभग 1 दर्जन अनुयायियों के साथ जंगल में ही रहता था. पुलिस ने उसके घर के चारों तरफ बिखरे 11 शव बरामद किए हैं, जिनके बारे में माना जा रहा है कि ये उसके अनुयायियों के ही शव हैं.

सनकी बाबा के घर के पास पांच ताबूतों में यह शव मिले हैं, जिनमें से एक शिशु और उसी मां का है. सनकी बाबा का कहना है कि आत्माओं के स्वर्ग से लौटने तक के लिए उसने इन शवों को संग्रहित किया है. शरीर से निकलने वाले द्रव्य बाहर निकल सकें, इसके लिए ताबूतों में छेद भी किए गए हैं. उसके अनुयायियों ने बताया कि सनकी बाबा बीमारियों के इलाज के लिए पेशाब और बलगम पीने को देता था. थावी का कहना है कि उसके सभी चेले अपनी मर्जी से यहां रहते हैं, उसने किसी पर यहां रुकने के लिए दबाव नहीं डाला है.

कैसे हुआ यह चौंकाने वाला खुलासा

53 वर्ष की एक महिला खुन जेनजिरा ने यहां के अधिकारियों से शिकायत की कि उसकी मां को घर वापस नहीं लौटने दिया जा रहा है. उसने बताया कि वह अपनी मां से मिलने वाहां गई थी. उसने देखा कि एक महिला लोगों से ड्रेस कोड में रहने को कह रही थी. वहां जाने से पहले सभी को अपने जूते दूर ही उतारने होते हैं. उसने कहा, सबसे आश्चर्यजनकर तो मेरे लिए मेरी मां को देखना था.

खुन जेनजिरा ने बताया कि उसकी मां इस सनकी बाबा का बलगम अपने चेहरे पर लगा रही थी. वह बाबा का थूक पी रही थी. महिला ने बताया कि वहां बाबा के अनुयायियों के 11 शव भी उसने देखे. उसने बताया कि उसकी मां ने कहा कि मरने के बाद उसके शव को भी वहीं छोड़ दिया जाए. स्थानीय मीडिया के अनुसार सनकी बाबा यानी थावी नानरा को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसे सोमवार को जमानत भी नहीं मिली है.

बता दें कि बाबा को शुरुआत में जंगली क्षेत्र में अतिक्रमण के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. उसका घर सरकारी जमीन पर बना था और वहां कोरोना वायरस के खिलाफ कानूनों का उल्लंघन हो रहा था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here