हमें अपने घर और नेतृत्व को ठीक करने की जरूरत है : कांग्रेस के जयराम रमेश ने कहा.

0
135
हमें अपने घर और नेतृत्व को ठीक करने की जरूरत है : कांग्रेस के जयराम रमेश ने कहा.

नई दिल्‍ली : 

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कांग्रेस पार्टी और इसके नेतृत्‍व का ठीक करने की जरूरत बताई है. जयराम ने कहा कि हमें अपनी पार्टी और लीडरशिप को ठीक करने की आवश्‍यकता है.उन्‍होंने कहा, ‘2014 और 2019 (चुनावों) में हम बुरी तरह से हारे. हमें अपने घर को दुरुस्‍त करना होगा ‘हमें अपने नेतृत्‍व को भी ठीक करना होगा. किसी भी नेता के पास जादुई छड़ी या मैजिक वैंड नहीं है, यह सामूहिक प्रयास होता है.’ रमेश ने कहा कि अगले चुनाव के पहले कांग्रेस पार्टी को समान विचारधारा वाले दलों के साथ आम सहमति बनाने की जरूरत है

बातचीत के दौरान वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता रमेश ने पार्टी को छोड़कर गए नेताओं पर भी निशाना साधा. उन्‍होंने कहा, ‘जिन युवाओं ने हमें छोड़ दिया वे जन्‍म से विशेषाधिकार प्राप्‍त हैं. उन्‍हें पार्टी की ओर से अच्‍छे पद मिले थे. पार्टी छोड़ने वाले हर सिंधिया से कहना चाहता हूं, हजारों युवा कांग्रेसी कार्यकर्ता पार्टी के लिए संघर्ष कर रहे हैं.’गौरतलब है कि ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने पिछले साल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी ज्‍वॉइन कर ली थी. रमेश ने कहा, ‘बीजेपी उन लोगों को क्‍यों स्‍वीकार कर रही है जिनकी वह ‘विशेषाधिकार’ प्राप्‍त होने के लिए आलोचना करती थी. जब यह लोग कांग्रेस में होते हैं तो बीजेपी उनकी आलोचना करती है लेकिन वह इन्‍हें भी ले लेती है. पार्टी में एक निश्चित अनुशासन होता है-लोग अपनी इच्‍छा के अनुसार आ-जा नहीं सकते.’ राजस्‍थान के कांग्रेस नेता सचिन पायलट की प्रशंसा करते हुए जयराम रमेश ने प्रशंसा की और उन्‍हें पार्टी की ‘बड़ी एसेट’ बताया. वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता ने कहा कि उनके लिए (पायलट के लिए) पार्टी में अच्‍छा भविष्‍य है.

सचिन पायलट के लिए जयराम का यह कमेंट, राजस्‍थान के इस कांग्रेस नेता के दिल्‍ली पहुंचने और पार्टी नेतृत्‍व से मिलने के प्रयास के बाद सामने आया है. पिछले साल राजस्‍थान के सीएम अशोक गहलोत के खिलाफ ‘बगावती सुर’ छेड़ने वाले पायलट ने हाल ही में कहा था कि मामला का हल तलाशने के दौरान उनके साथ किए गए वायदों को अभी तक पूरा नहीं किया गया है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here