MLC प्रत्याशी के काफिले पर हमला: बाहुबली शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब पर केस दर्ज

0
238

सिवान में एमएलसी चुनाव समाप्त होने के बाद साथियों के साथ मीटिंग करने के बाद सोमवार की रात करीब 11.30 बजे अपने गांव को जा रहे निर्दलीय प्रत्याशी रईस खां के काफीले पर अंधाधुंध गोलीबारी की गयी, जिसमें एक युवक की मौत हो गयी तो आधा दर्जन लोग घायल हो गये. घटना हुसैनगंज थाना क्षेत्र के महुअल गांव स्थित एसएच 89 पर सोमवार की देर रात हुई. इस मामले में अब मोहम्मद शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा समेत 8 के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. हुसैनगंज थाने में प्राथमिकी की सूचना है.

ओसामा शहाब समेत 8 पर केस दर्ज

इस मामले में प्रतापपुर गांव निवासी पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा शहाब, सराय ओपी के चाप गांव निवासी मो. अफताब, नगर थाना क्षेत्र के नया किला नवलपुर निवासी भुट्टू मियां उर्फ भुट्टू पिस्टल, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के ओरमा गांव निवासी पूर्व मुखिया शाबिर मियां, एमएचनगर थाना क्षेत्र शेखपुर निवासी सह शेखपुरा पंचायत के मुखिया पति डब्ल्यू खां, महुवल गांव निवासी आजाद अंसारी, महुअल निवासी आसिफ सिद्दीकी व यूपी के मउ जिला निवासी चव्वनी सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

जान बचाकर भागे रईस खां

अपराधियों ने रईस के वाहन को भी निशाना बनाया, परंतु रईस खां खतरे को भांप वाहन की रफ्तार तेज करवाते हुए निकल गये. परंतु पीछे से आ रही उनके काफिले का एक वाहन व अन्य दो वाहन जो सिसवन की तरफ जा रहे थे वह अपराधियों के निशाने पर आ गये. रईस खां का वाहन जाने के बाद चूके अपराधियों ठीक उनके पीछे आ रही एक बोलेरो पर ताबड़तोड़ फायर झोंक दिया. एक के बाद एक गोली बोलेरो को छेदते हुए आगे बैठे सिसवन थाना क्षेत्र के स्थानीय गांव निवासी हरिचरण यादव के पुत्र विनोद यादव को जा लगी.यही नहीं उसमें समवार धमेंद्र यादव व सोनू अंसारी को भी गोली लगी.

चालक ने रफ्तार तेज कर दी

इधर अचानक शुरू हुई गोलीबारी को देख बोलेरो चालक ने रफ्तार तेज कर दी परंतु वाहन में बैठे तीन लोगों को गोली लग चुकी थी. इसके बाद अपराधियों ने बोलेरो के पीछे आ रहे एक वाहन को निशाना बनाया. जिसमें रईस खान के दो समर्थक गोली लगने से घायल हो गए. उनकी पहचान एमएच नगर थाना क्षेत्र के बब्लू खान व सिसवन थाना क्षेत्र के ग्यासपुर गांव के फूलन खान के रुप में हुई है.

गोलीबारी में एक की मौत

इसी तरह पीछे से अपने वाहन में जा रहे राकेश तिवारी व उनकी पत्नी इंदू देवी भी इस गोलीबारी में घायल हो गई. एक के बाद एक तीन वाहनों में सवार छह लोगों के घायल होने व एक की मौत की सूचना के बाद रईस खां के समर्थकों में आक्रोश उबल पड़ा. जब तक वे पहुंचते अपराधी फरार हो चुके थे. सभी घायलों को अलग-अलग निजी चिकित्सालय में इलाज के लिए भर्ती कराया गया.

काफिले पर 150 राउंड गोलियां चलने की चर्चा

मिली जानकारी के अनुसार एमएलसी प्रत्याशी रहे रईस खान चुनाव की समीक्षा के बाद देर रात काफिले के साथ शहर से अपने गांव ग्यासपुर लौट रहे थे. इसी बीच महुअल गांव के पास एसएच 89 पर स्कॉर्पियो सवार हथियार से लैस अपराधियों ने रईस के काफिले पर एके 47 से अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. इस घटना में तकरीबन 150 राउंड गोली चलने की बात कही जा रही है.

काफिले के सबसे आगे चल रही गाड़ी में रईस खान मौजूद

काफिले के सबसे आगे चल रही गाड़ी में रईस खान मौजूद थे. उन्होंने बताया कि रफ्तार तेज होने से उनकी गाड़ी निकल गई. लेकिन पीछे चल रही गाड़ी में बैठे लोगों को गोली लग गयी. घटना के बाद अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ रईस खान सदर अस्पताल पहुंचे. रईस खान का कहना है कि उनकी हत्या करने की साजिश रची गई थी. उनपर 150 राउंड से अधिक गोलियां चलायी गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here